• 41 C
    New Delhi
Corona Virus India

केंद्र सरकार ने मंगलवार को मीडिया में आईं उन खबरों को खारिज कर दिया जिनमें दावा किया गया है..

( words)

केंद्र सरकार ने मंगलवार को मीडिया में आईं उन खबरों को खारिज कर दिया, जिनमें दावा किया गया है कि भारत जुलाई के अंत तक 50 करोड़ कोविड रोधी टीके लगाने के लक्ष्य से चूक जाएगा। सरकार ने कहा कि ये खबरें गलत हैं और इनमें तथ्यों को स्पष्ट रूप से गलत तरीके से प्रस्तुत किया गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जुलाई अंत तक 50 करोड़ टीके लगाने के लक्ष्य से चूकने का आरोप लगाने वाली मीडिया में हाल में आईं खबरों के संदर्भ में बयान जारी किया है। इन खबरों में दावा किया गया है कि सरकार ने मई 2021 में कहा था कि जुलाई के अंत तक 50 करोड़ डोज लगा दी जाएंगी।

मंत्रालय ने कहा कि उसने मई में कहा था कि जुलाई के अंत तक 51.60 करोड़ डोज उपलब्ध करा दी जाएंगी। मंत्रालय ने कहा कि हो सकता है कि टीके की 51.60 करोड़ डोज के आंकड़ों को विभिन्न स्त्रतों से लिया गया हो, जिनमें जनवरी से जुलाई के अंत तक डोज की संभावित उपलब्धता के बारे में सूचना दी गई हो।

मंत्रालय ने कहा, 'तथ्य यह है कि जनवरी से 31 जुलाई, 2021 तक कुल 51.60 करोड़ से अधिक टीकों की डोज की आपूर्ति की जाएगी।' मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को टीकों की आपूíत अग्रिम आवंटन और उन्हें दी गई अग्रिम सूचना के अनुसार की जाती है। महीने भर में विभिन्न समय पर टीकों की आपूíत की जाती है।

बयान के मुताबिक, 'इसलिए एक खास महीने के अंत तक 51.60 करोड़ डोज की उपलब्धता का अर्थ यह नहीं है कि उस महीने तक आपूíत की जाने वाली प्रत्येक डोज का इस्तेमाल किया जाएगा या उसे लगाया जाएगा।'मंत्रालय ने बताया कि इस साल एक जनवरी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक कुल 45.7 करोड़ डोज की आपूíत की गई है और 31 जुलाई तक अतिरिक्त 6.03 करोड़ डोज की आपूर्ति किए जाने की संभावना है। इस तरह जनवरी से 31 जुलाई 2021 तक आपूíत की गई डोज की कुल संख्या 51.7 करोड़ होगी।

सबसे से तेज टीकाकरण बयान में कहा गया है, 'इस बात की सराहना की जानी चाहिए कि भारत ने 44.19 करोड़ डोज को लगाने की उपलब्धि हासिल कर ली है, जो विश्व में हासिल की गई सबसे बड़ी संख्या है और इसे काफी तेज गति से भी किया गया है। इनमें से 9.60 करोड़ ऐसे मामले हैं जिनमें दोनों डोज दी गई हैं। 'सरकार ने कोरोना संबंधी मौतों पर मीडिया रिपोर्ट को गलत बताया। सरकार ने एक अध्ययन के आधार पर कोरोना से मौत पर मीडिया में आई खबर को पूरी तरह से गलत बताते हुए खारिज किया है।

इसमें कहा गया है कि कोरोना संक्रमण के चलते भारत में अब तक सरकारी आंकड़ों से सात से आठ गुना ज्यादा यानी 27-33 लाख लोगों की मौत हुई है। खबर में तीन अलग-अलग डाटाबेस का हवाला दिया गया है। मंत्रालय ने कहा कि सरकार कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में पूरी तरह से पारदर्शी है और ऐसी मौतों को रिकार्ड करने की मजबूत व्यवस्था है।

You Might Also Like...

Sign Up for Our Newsletter

Subscribe now to get notified about Breaking News
from Live4India!