• 41 C
    New Delhi
Travel

अगर आप भी हैं 'Tea Lovers' तो एक बार जरूर जाएं यहाँ

( words)

भारत चीन को छोड़कर दुनिया के किसी भी देश की तुलना में अधिक चाय का उपभोग और उत्पादन करने के लिए जाना जाता है। चलिए आज हम आपको बताते हैं जिस चाय को आप इतना पसंद करते हैं उस चाय के बागान सबसे ज्यादा कहां देखें जाते हैं। ऐसी जगह देखने में बेहद ही खूबसूरत लगती हैं।

जोरहाट, असम

चाय का सबसे बड़ा उत्पादक असम अपने आप में एक सौंदर्य है। दिव्य झरनों और शानदार चाय बागानों से भरपूर, जोरहाट हर चाय के शौकीनों के लिए एक खूबसूरत डेस्टिनेशन है। जब आप चाय के बागानों से होकर निकलेंगे तो आपकी आत्मा चाय पत्तियों की खुशबुओं से महक जाएगी। सीटीसी चाय जोरहाट और असम के कुछ हिस्सों में उत्पादित चाय का सबसे प्रसिद्ध रूप है। जबकि घूमने का सबसे अच्छा समय मई और जून के आसपास है, नवंबर भी एक बढ़िया विकल्प हो सकता है। जोरहाट में हर वर्ष चाय महोत्सव मनाया जाता है। एक ऐसा आयोजन, जिसमें चाय का स्वाद लेना, गोल्फ सत्र, जंगल सफारी और कई मनोरंजन विकल्प शामिल होते हैं। असम में आप इन जगहों पर चाय के बागान देख सकते हैं - बैन्यन ग्रोव, बुर्रा साहिब बंगला, थेंगई मनोर।

दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल

एक नाजुक फूलों की सुगंध के साथ, दार्जिलिंग चाय असम चाय की तुलना में हल्के रंग की होती है और इसे अक्सर चाय की शैंपेन के रूप में जाना जाता है। सके काले, हरे, सफेद और ऊलोंग वेरिएंट में से इसका सफेद और ऊलोंग वेरिएंट चाय के शौकीनों में सबसे पसंदीदा माना जाता है। दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल अपने खूबसूरत चाय बागानों के बीच चाय का स्वाद चखने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है। दार्जिलिंग में आप इन जगहों पर चाय के बागान देख सकते हैं - ग्लेनबर्न टी एस्टेट, मकाई बारी टी एस्टेट, सेलिम हिल टी एस्टेट, हैप्पी वैली टी एस्टेट। हैप्पी वैली शहर से सबसे आसानी से पहुँचा जा सकने वाला चाय बागान है (लगभग 3 किमी) और यह स्थानीय लोगों के साथ-साथ पर्यटकों के बीच भी काफी लोकप्रिय है। दार्जिलिंग घूमने का सबसे अच्छा समय मार्च से नवंबर तक है।

मुन्नार, केरल

अंग्रेजों ने 1857 में मुन्नार में चाय बागान की नींव रखी। जॉन डेनियल मुनरो देश के इस तरफ जब आए तब उन्हें तुरंत ही इस जगह से प्यार हो गया था। तब से मुन्नार 50 से अधिक चाय बागानों का घर रहा है, उनमें से कुछ हैं - एवीटी चाय, हैरिसन मलयालम, सेवनमल्ले टी एस्टेट, ब्रुक बॉन्ड। अगर आप केरल में चाय के बागान देखने के लिए टूर पर हैं तो आप यहां रह भी सकते हैं, केरल का राज्य पर्यटन विभाग यात्रियों को ऐसे विकल्प प्रदान करता है। ह स्थान चाय संग्रहालय की भी मेजबानी करता है, जहां आप चाय से जुड़ी जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं।

ऊटी, तमिलनाडु

तमिलनाडु राज्य में स्थित एक खूबसूरत शहर, ऊटी को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। हनीमून मनाने वालों और परिवार के साथ घूमने के लिए ये बेहतर विकल्प है। ऊटी में आप औपनिवेशिक वास्तुकला के साथ कुछ प्राचीन जगहों को भी देख सकते हैं। यहां के चाय के बागान हिल स्टेशन की खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं। ऊटी चाय फैक्टरी, यूनाइटेड नीलगिरी एस्टेट्स, हाईफील्ड टी फैक्ट्री यहां आप चाय के बागान देख सकते हैं। ऊटी टी फैक्ट्री में, आप न केवल चाय की पूरी प्रक्रिया देख सकते हैं, बल्कि आप यहां चाय के स्मृति चिन्ह और घर की बनी चॉकलेट भी घर ले सकते हैं।

नीलगिरी पहाड़, तमिलनाडू

तमिलनाडु में मौजूद नीलगिरि पहाड़ी पर 100 साल से भी ज्यादा समय से उगाया जाने वाला चाय का बागान पूरी दुनिया में मशहूर है। यहां कई टी प्लांट भी स्थित हैं। नीलगिरि के पास कुनूर में आप कई चाय के बागान को देखने का मजा भी ले सकते हैं।

You Might Also Like...

Sign Up for Our Newsletter

Subscribe now to get notified about Breaking News
from Live4India!