WC: सटीक थ्रो की प्रैक्टिस, कोच ने टीम इंडिया से लगवाए 20-20 बार निशाने

1
3

टीम इंडिया मौजूदा वर्ल्ड कप में अपने अभियान का आगाज 5 जून को साउथेम्पटन में करेगी. पहले मैच में उसका सामना साउथ अफ्रीका से होगा.

भारतीय टीम की कैचिंग अच्छी मानी जाती है, लेकिन फील्डिंग कोच आर. श्रीधर वर्ल्ड कप में सीधे थ्रो को अचूक बनाने के लिए इसमें सुधार चाहते हैं. रवींद्र जडेजा को छोड़कर भारतीय टीम के अन्य खिलाड़ियों का विकेट पर लगाया गया निशाना अच्छा नहीं है भले ही वे चुस्त और फुर्तीले हैं. टीम इंडिया मौजूदा वर्ल्ड कप में अपने अभियान का आगाज 5 जून को साउथेम्पटन में करेगी. पहले मैच में उसका सामना साउथ अफ्रीका से होगा.

श्रीधर ने अब ‘राउंड द क्लॉक’ क्षेत्ररक्षण ड्रिल तैयार की है, जिसमें फील्डर 6 विभिन्न पोजिशन से नॉन स्ट्राइकर छोर पर विकेट पर गेंद मारता है.

श्रीधर ने नेट सत्र के बाद बीसीसीआई.टीवी से कहा, ‘हमने दिलचस्प क्षेत्ररक्षण सत्र में भाग लिया. इस सत्र का उद्देश्य सीधे हिट करना था. हमारा ध्यान इस पर था कि खिलाड़ी विभिन्न कोणों से नॉन स्ट्राइकर छोर पर सटीक निशाना लगाएं. शुरू में हमने एक ड्रिल ‘राउंड द क्लॉक’ से शुरुआत की, जिसमें खिलाड़ियों को 6 अलग-अलग पोजिशन से 20 बार स्टंप को हिट करना था.’

अभ्यास सत्र का दूसरा महत्वपूर्ण पहलू कप्तान विराट कोहली का ऑफ स्पिन में हाथ आजमाना रहा, लेकिन बल्लेबाजों को उनका सामना करने में कोई परेशान

अभ्यास सत्र का दूसरा महत्वपूर्ण पहलू कप्तान विराट कोहली का ऑफ स्पिन में हाथ आजमाना रहा, लेकिन बल्लेबाजों को उनका सामना करने में कोई परेशानी नहीं हुई.

1 टिप्पणी

  1. I am really impressed with your writing skills as well as with the layout on your weblog. Is this a paid theme or did you modify it yourself? Anyway keep up the excellent quality writing, it’s rare to see a great blog like this one nowadays..

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here