WhatsApp के लिए FB बना रही है क्रिप्टोकरेंसी, सबसे पहले भारत आएगा

0
0

सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक क्रिप्टोकरेंसी लाने की तैयारी में है. दिलचस्प ये है कि इसे सबसे

पहले भारत में लॉन्च किया जा सकता है और इससे वॉट्सऐप से पैसे ट्रांसफर करने के लिए यूज

किया जाएगा. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक के इस क्रिप्टोकरेंसी के शुरुआती

मार्केट में भारत होगा.

Bitcoin का नाम तो आपने सुना ही है जो क्रिप्टोकरेंसी है. फेसबुक के क्रिप्टोकरेंसी का नाम

Stablecoin होगा. रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक अभी इस पर काम किया जा रहा है और इसे

लॉन्च करने में कुछ समय लग सकता है. यह क्रिप्टोकरेंसी यूएस डॉलर पर आधारित होगा और

दूसरे क्वॉइन से ज्यादा भरोसेमंद होगा. कंपनी ने वॉट्सऐप के लिए बना रही है.

हालांकि ये रिपोर्ट पहले से आती रही है कि फेसबुक क्रिप्टोकरेंसी पर काम कर रहा है.

लेकिन इसे यूज कैसे किया जाएगा ये साफ नहीं था. भारत में वॉट्सऐप के 200 मिलियन यूजर्स हैं

और स्टेबलक्वॉइन भारत में लॉन्च करने की वजह यही है.

आपको बता दें कि 2014 में फेसबुक ने दुनिया की टॉप पेमेंट गेटवे पेपल के प्रेसिडेंट डेविड मार्कस

को हायर किया था. फिलहाल डेविड मार्कस फेसबुक मैसेंजर ऐप के हेड हैं और रिपोर्ट ये है कि

डेविड ही फेसबुक की क्रिप्टोकरंसी स्टेबलक्वाइन को हेड कर रहे हैं. इसके अलावा कंपनी लगातार

अपने ब्लॉकचेन डिपार्टमेंट को भी बढ़ा रही है.

फेसबुक ने हाल ही में ये स्टेटमेंट दिया था कि दूसरी कंपनियों की तरह फेसबुक भी ब्लॉकचेन टेक्नॉलजी

के पावर को एक्स्प्लोर कर रही है.

भारत में वॉट्सऐप पेमेंट सर्विस लाने की लगातार कोशिश कर रही है और इसके लिए कंपनी ने काफी पहले

से टेस्टिंग भी शुरू कर दी है. लेकिन इसे पब्लिक रॉल आउट का लाइसेंस नहीं मिला है.

देखना दिलचस्प होगा कि ब्लॉकचेन लाने से पहले कंपनी को भारत में पेमेंट सर्विस

लॉन्च करने की इजाजत मिलती है या नहीं.